रोज से-क्स करने के बाद भी प्रेगनेंट नहीं हो पा रही हूँ, क्यों?

से-क्स एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका आनंद न सिर्फ महिलाएं लेती है बल्कि पुरुष भी इस चीज का आनंद भरपूर लेना चाहते है. कई बार महिलाएं से-क्स के दौरान संतुष्ट नहीं होती है तो कई बार ये हाल पुरुषों का होता है, वही से-क्स के दौरान महिलाओं को संतुष्ट करने के तरीके अनेक है लेकिन से-क्स एक ऐसा शब्द है. जिसके बारे में ज्यादातर लोग बात नहीं करना चाहते बस इसे करना चाहते हैं.

लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि से-क्स सिर्फ करने और खुद को संतुष्टि दिलाने के लिए होता है से-क्स एक मानसिक और भावनात्मक रूप से जुड़े दो ऐसे पार्टनर्स के बीच होता है. जो कि इसका बराबर आनंद लेना चाहते हैं लेकिन अक्सर यह देखा गया है कि से-क्स के दौरान महिलाओं को संतुष्टि प्राप्त नहीं होती कहने का मतलब है कि महिलाएं अपने ऑर्गैज़म को प्राप्त नहीं कर पाती है.

वैसे अक्सर से-क्स के दौरान पुरुषों को केवल अपनी फिक्र होती है और वह अपनी खुशी और ऑर्गेज्म के बारे में ही सोचते हैं लेकिन ऐसा बिल्कुल गलत है.क्योंकि से-क्स करना और उसका आनंद लेना दोनों के लिए जरुरी है. आज हम आपको से-क्स के दौरान महिलाओं को संतुष्ट करने के तरीकों के बारे में बताने वाले हैं कि आप किस प्रकार एक महिला को से-क्स के दौरान संतुष्ट कर सकते हैं और ऑर्गैज़म का आनंद दिला सकते हैं.

जल्दबाजी में किया जाने वाला से-क्स कारण होता है महिलाओं कि असंतुष्ट रह जाने का. एक अच्छे मूड की कमी असंतुष्टि का कारण हो सकती है. से-क्स को लेकर अत्यधिक तनाव भी असंतुष्टि का कारण होता है. संभोग क्रिया करते समय अपने आप को असहज महसूस करना भी होता है असंतुष्टि का कारण. से-क्स करते समय योनि में दर्द भी हो सकता है असंतुष्टि का कारण. फोरप्ले की कमी बनती है महिलाओ की असंतुष्टि का कारण. योनि में चिकनाहट की कमी भी हो सकती है से-क्स के दौरान असंतुष्टि का कारण. ऐसे कई कारण हैं जो महिला को बेडरूम में असंतुष्ट छोड़ने के पीछे हो सकते हैं.

अचानक प्रेगनेंट हो जाना बिना किसी तैयारी के ये तो आम बात होता है लेकिन उनके लिए ये मुश्किल होता है जो कितनी भी मशक्कत करें लेकिन प्रेगनेंट होने की खुशखबरी नहीं दे पा रहे हैं। आजकल तो ट्वीन्स होने की खबर तो हेडलाइन बन जाती है लेकिन क्या उनके बारे में सोचा है जो कंसिव ही नहीं कर पाते हैं। इसके पीछे बहुत सारे कारण होते हैं चलिये इनके बारे में जान लेते हैं फर्टाइल पीरियड में से-क्स नहीं किया होगा- महिलाओं के लिए फर्टाइल पीरियड का कंसेप्शन बहुत ही जटिल होता है।

सामान्यत- स्पर्म में जब शरीर में इंटरकोर्स के दौरान घुसता है तब दो-तीन दिन तक वैजाइनल एरिया में ही रहता है। जबकि फिमेल एग का जीवनकाल 12-24 घंटा का होता है। इसलिए कंसिव होने के लिए ओवुलेशन के समय बार-बार से-क्स करना बेहतर होता है नॉन-फर्टाइल पीरियड में से-क्स न करने की गलती-नॉन-फर्टाइल पीरियड में से-क्स करने की गलती न करें क्योंकि इस दौरान बार-बार से-क्स करने से कंसिव करने का चांस बढ़ता है। शायद बार-बार से-क्स करने से शरीर में बदलाव आ जाये और मां बनने की संभावना बन जाये।

हाइमन शायद ब्रेक ही नहीं हुआ- कभी-कभी ऐसा भी होता है कि पहली बार से-क्स करने या महीनों तक से-क्स करने के बाद भी हाइमन ब्रेक नहीं होता है तो फिर कंसिव होने की संभाव‍ना भी शुन्य ही रह जाती है न। से-क्स करने के बाद मास्टरबेट करता है पार्टनर- अगर आपका पार्टनर से-क्स करने के एक घंटे पहले मास्टरबेट करता है तो से-क्स के दौरान इजाक्युलेट करने में देर होगा। फल ये होगा कि प्रेगनेंट होने का चांस भी कम हो जायेगा। लुब्रिकेंट का करते हैं इस्तेमाल– अगली बार से लुब्रिकेंट इस्तेमाल करने से पहले सोच लें क्योंकि लुब्रिकेंट के इस्तेमाल से स्पर्म की गतिशीलता कम हो जाती है जिसके कारण वह एग तक पहुँच ही नहीं पाता है।

से-क्स के दौरान महिलाएं करती हैं ये  गलतियां, कहीं आप भी तो नहीं. से-क्स के दौरान महिलाएं करतीं हैं ये गलतियां  हर महिला चाहती है की उसका दाम्पत्य जीवन रोमांच से भरपूर रहे, लेकिन इसके लिए सारी मेहनत पति करे. उन्हें अपनी तरफ से एफर्ट ना देना पड़े. इस चक्कर में उनकी से-क्स लाइफ  भी प्रभावित होती है और उनकी भावनाएं पूरी नहीं हो पाती. तो आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की वो कौनसी ऐसी गलतियां  हैं जो महिलाएं के दौरान करती हैं और जिसके कारण उनकी से-क्स लाइफ बुरी तरह प्रभावित होती है.

पति को खुद ही पहल करना चाहिए – अक्सर महिलाएं ये सोचकर से-क्स में पहल नहीं करती की ये तो उनके पार्टनर का काम है. वो सोचती हैं की से-क्स में उनको क्या चाहिए, ये उनके पार्टनर को खुद ही समझ जाना चाहिए और इसी वजह से वो अपने दिल की बात भी अपने पति से नहीं कहतीं  लेकिन ये सोच बिल्कुल ही गलत है.आप क्या चाहती हैं, ये आप जब तक खुद नहीं बताएंगी तब तक वो कैसे समझ पाएंगे. इसलिए अच्छा यही होगा की आप खुलकर  उन्हें अपनी चाहत के बारे में बताएं  अगर आपको ऐसा लग रहा है की आपके पति का से-क्स का मूड नहीं है, पर आप से-क्स के मूड में हैं तो अपने व्यवहार और इशारों से उन्हें समझाएं.

पति आपके दिल की बात नहीं समझते- अक्सर पुरुष से-क्स में जल्दबाज़ी करते हैं और महिलाओं की चाहत कुछ और ही होती है. पुरुष फोरप्ले में ज़्यादा समय नहीं लगाते जबकि महिलाओं के लिए फोरप्ले जरुरी होता है. अगर आपके पार्टनर को ये बात नहीं पाता है तो उन्हें बताएं की से-क्स से पहले फोरप्ले आपके लिए कितना जरुरी होता है फोरप्ले के दौरान आप कुछ नया करें और उन्हें बताएं की उन्हें भी कुछ ऐसा ही करना चाहिए. यकीन मानिये अगर एक बार उन्होंने आपकी ज़रूरत समझ ली तो वे आपकी हर इच्छा पूरी करने की कोशिश करेंगे और आपकी से-क्स लाइफ और भी आनंददायक बन जाएगी.

अपने शरीर को लेकर हीनभावना – भले ही महिलाएं ये बात ना मानें लेकिन ये सच है की वे अपने शरीर को लेकर हीनभावना से ग्रस्त रहती हैं और से-क्स के दौरान पूरी कोशिश करती हैं की उनका पार्टनर उनके इन अंगों को देखने ना पाए और उनका पार्टनर इस बात से कई बार चिढ़ जाता है अगर आप भी ऐसा ही सोचती हैं और ये आश्वासन चाहती हैं की आपकी बॉडी परफेक्ट है तो अपने पार्टनर से खुलकर पूछें की मैं अपने अंगों को लेकर इनसिक्योर महसूस करती हूं तो क्या आपको ये आकर्षक लगते हैं.

से-क्स के लिए हमेशा ना ना कहना – से-क्स के लिए हमारे यहाँ हमेशा से ऐसा ही होता आया है, पुरुष से-क्स के लिए महिलाओं को मनाते रहते हैं और महिलाएं ज्यादातर ना ना ही करती हैं, लेकिन हमेशा ऐसा करना ठीक नहीं है बल्कि कभी-कभी ठीक इसका उल्टा होना चाहिए से-क्स की पहल कभी आपको भी अपनी तरफ से करनी चाहिए किसी शाम आपकी तरफ से ख़ास तैयारी होनी चाहिए ताकि वो शाम ख़ास बन जाएं.

से-क्स के बाद पार्टनर के साथ वयवहार- अक्सर महिलाएं से-क्स के बाद  तुम तो बड़े बेशर्म हो  बच्चे इतने बड़े हो गए हैं लेकिन तुम्हारी आदतें नहीं बदल  जैसी फालतू बातें बोलकर अपने पार्टनर का मूड ऑफ कर देती हैं लेकिन ऐसा करना सही नहीं है ! से-क्स को अपनी बात मनवाने का हथियार समझना. ज्यादातर महिलाएं ये ट्रिक आजमाती हैं, जब भी पार्टनर का मूड होता है से-क्स करने का तभी उसी टाइम उनसे बोलती हैं की मेरा मूड नहीं है और जब पतिदेव मनाते हैं तो बोलती हैं की पहले प्रॉमिस करो की कल शॉपिंग पर लें जाओगे, ऐसे में पार्टनर बोल ही देता है की “हाँ लें जाऊँगा” पर अभी मूड  खराब मत करो ! इसके अलावा सास ननद की दिन भर की चुगली पार्टनर से करने के लिए भी महिलाओं को बेड टाइम ही मिलता है.

क्यूंकि वो अच्छी तरह से जानती हैं की इस टाइम उनका पार्टनर सारी बातें सुन लेगा बिना कोई बहस किये हुए क्यूंकि अगर उन्होंने बहस की तो पत्नी का मूड खराब हो जाएगा और पतिदेव को बिना रोमांस किये ही सोना पडेगा अगर आप भी उन्ही महिलाओं में से हैं तो सावधान हो जाइये क्यूंकि ऐसा करना बिल्कुल भी ठीक नहीं है  इससे आपके आपसी रिश्ते से प्यार और अपनापन ख़त्म हो जाएगा.

 

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *